जिंदगी ने हमसे 
कुछ यूँ 
फांसला बना लिया 
चेहरे पे हँसी दे दी 
और आँखों से 
उजाला छीन लिया 
रोने को चाहे तो 
रो दे मगर 
आँसुओ ने भी 
ना आने का 
बहाना बना लिया